Sunday, October 22, 2017
Breaking News

Recent News

सप्ताह की कविता में इस बार पढ़िये पवन करण की कविता ‘ये रास्ता जहां पहुंचता है’

pawan karan pic

सप्ताह की कविता में इस बार पढ़िये पवन करण की कविता ‘ये रास्ता जहां पहुंचता है’ ये रास्ता जहां पहुंचता है मुम्बई पटना जयपुर भोपाल नहीं पहुचता यह यह रास्ता देश की राजधानी भी नहीं पहुंचता दरअसल यह रास्ता नागपुर पहुंचता है जहां से एक मुख्यालय पर लहराते ध्वज की …

Read More »

शासकीय आदर्श विज्ञान महाविद्यालय में 21 दिवसीय वीडियों एडिटिंग एण्ड कम्पोजिटिंग प्रशिक्षण शुरू

Jpeg

ग्वालियर : छात्रों को रोजगारोन्मुखी कार्यक्रम के जरिए रोजगार प्रदान कराने एवं स्किल में वृद्धि के लिये शासकीय महाविद्यालयों में आरंभ की गयी स्वामी विवेकानंद कैरियर योजना के अंतर्गत श्रीमंत माधवराव सिंधिया आदर्श विज्ञान महाविद्यालय में छात्रों के लिये 21 दिवसीय वीडियों एडिटिंग एण्ड कम्पोजिटिंग प्रशिक्षण शुरू किया गया। इस …

Read More »

चुनावी मोड में सरकार एक और योजना सौभाग्य को किया लॉंच, 31 मार्च, 2019 तक हर घर में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य

pm narendra modi launches saubhagya yojna power to every house on pt deen dayal upadhyaya birth anniversary

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार शाम हर घर को बिजली देने की घोषणा करते हुए सौभाग्य योजना का ऐलान किया. इस योजना के तहत गरीबों को मुफ्त में बिजली के कनेक्शन दिए जाएंगे. प्रधानमंत्री ने रिमोट के माध्यम से इस योजना का लोकोर्पण किया. इस योजना के तहत …

Read More »

सप्ताह की कविता में इस बार पढ़िये पवन करण की कविता ‘चांद के बारे में’

pawan karan pic

सप्ताह की कविता में इस बार पढ़िये पवन करण की कविता ‘चांद के बारे में’ इस चांद के बारे में तुम कुछ भी नहीं जानते एक नंबर का धोखेबाज है ये एकदम बिगड़ा नबाब इसकी संगत ठीक नहीं ये तुम्हें भी कहीं का नहीं छोड़ेगा कहीं भी फंसा देगा ले …

Read More »

रक्षाबंधन पर विशेष एवं सप्ताह की कविता में इस बार पढ़िये पवन करण की कविता ‘रक्षाबंधन’

Raksha-Bandhan-Date-in-India

रक्षाबंधन पर विशेष एवं सप्ताह की कविता में इस बार पढ़िये पवन करण की कविता ‘रक्षाबंधन’ भाई के जिस हाथ पर राखी बांध रही हूं मैं ये वही हाथ है जिसने नकली दस्तखत करके पिता की संपत्ती में से मेरा हिस्सा भी अपने नाम कर लिया ये वही हाथ है …

Read More »

दूध का सार घी से है, नीबू का सार रस है, मुख का सार देवषास्त्र, गुरू के वचन : आचार्य विनम्र सागर

vinamra sagar

ग्वालियर- शादी उसी व्यक्ति की होती है जो पूर्व से कर्जदार होता है। कर्ज उतारने के लिए पत्नि मिलती है। फर्ज के लिए पत्नि नही मिलती। जिस पर कोई कर्ज नहीं होता है वह बाल ब्रहाचारी संत बन जाते है। जिस पर किसी का कर्ज नहीं ईष्वर उसे आपने पास …

Read More »

लक्ष्य को आधार मानकर कार्य करने वालों को मिलता है मोक्ष : आचार्य विनिश्चय सागर

DSC_7228

ग्वालियर : मोक्ष पाने के लिए पुरूषार्थ करना जरूरी है। सम्यक पुरूषार्थ ही जन्म मरण से मुक्ति का एकमात्र मार्ग है। पाष्र्वनाथ भगवान ने भी कई भव पार करने के बाद मोक्ष प्राप्त किया था। यह विचार आचार्य श्री विनिष्चय सागर महाराज ने आज रविवार को मुरार स्थित श्री दिगंबर …

Read More »

अपने अभिनय से फिर ‘काल तुझसे होड़ है मेरी’ लिख रहे हैं आलोक चटर्जी : पवन करण

alok chararji

आज से लगभग दस—बारह बरस पहले ‘तानसेन संगीत समारोह ग्वालियर’ में पंडित जसराज के गायन में खोये हुए मुझे लगा जैसे आसमान की तरफ अपना मुंह उठाकर वे गा नहीं रहे बल्कि समय को चुनौती दे रहे हैं…..यही बात कल यहां नटसम्राट में आलोक चटर्जी को अभिनय करते देखकर तीब्रता …

Read More »

मानव के जीवन की सबसें कीमती पूंजी उसका धन-वैभव नहीं : आचार्य विनिश्चय सागर

DSC_6651

 ग्वालियर-संसार परिवर्तनषील हैं। यहां पर कोई भी चीज स्थाई नहीं है। जीवन में अनुकूलता मे तो सभी अपना जीवन जी लेते है प्रतिकूलता में जो व्यक्ति जीवन जी लेते है उसकी सर्वत्र प्रषंसा होती होती है। यह विचार आचार्य श्री विनिष्चय सागर महाराज ने आज षनिवार को सकल जैन समाज …

Read More »

भगवान पाश्र्वनाथ मोक्षकल्याणक पर आचार्य विनम्र सागर के सानिध्य में भगवान को चढ़ाया गया लाढ़ू

DSC_6755

ग्वालियर-भगवान स्वयं तीर्थ है, स्वयं तीरते है और तीनो लोको के जीवो को तारते है। जन्म-मरण जो सब का प्राप्त करते है। मगर सब अपने अपने कमों के अनुसार जीवन-यापन करते है। जुड़वा जन्म लेने पर भी मरण अलग अलग होता है। तीर्थंकार एक ही बार जन्म लेते है और …

Read More »

Powered by keepvid themefull earn money